मोबाइल फोन इंश्योरेंस कैसे करें ?-Moblie Phone Insurance

आज मोबाइल(Mobile) मॉडर्न जेनरेशन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। अब यह सिर्फ लोगों से बात करने का साधन मात्र ही नहीं है,  जबकि इसके बहुत सारे उपयोग होने लगे हैं। मोबाइल को आप फोटो के लिए कैमरे के रूप में, मैसेज भेजने के लिए और ऑनलाइन खरीदारी करने मे यूज कर सकते हैं। इसी के साथ मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) की डिमांड भी दिनों दिन बढ़ती जा रही है।

वास्तव में मोबाइल इतना महत्वपूर्ण हो गया है कि आज लोग एक नहीं बल्कि दो-दो फोन रखने लगे हैं। 

    इसी के साथ मोबाइल फोन के खोने कि, चोरी होने की, स्क्रीन के खराब होने की घटनाएं भी बढ़ गई है जिसके कारण काफी फाइनेंशियल लॉस का सामना करना पड़ता है। अब तो बाजार में काफी महंगे और विभिन्न प्रकार के फीचर वाले फोन भी उपलब्ध हैं जिनके खराब होने पर रिपेयर करवाने या बदलने में काफी खर्चा लगता है।

क्या आप इन खर्चों को आसानी से वहन कर सकते हैं?

   इस तरीके से होने वाले नुकसान से बचने के लिए मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) मार्केट में उपलब्ध है जिसे आप लेकर अपने फोन के चोरी, डैमेज आदि से होने वाले नुकसान से बच सकते हैं.

आइए मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी को  समझते हैं :-

Page Contents

मोबाइल फोन इंश्योरेंस क्या है-What is Mobile Phone Insurance in Hindi

यह फोन पर ली गई एक इंश्योरेंस पॉलिसी है, जिसमें मोबाइल फोन के संभावित नुकसान से होने वाले फाइनेंशियल लॉस को कवर किया जाता है।

मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी की विशेषता-Features of Mobile Phone Insurance Policies in Hindi

इन इंश्योरेंस पॉलिसीज में निम्नलिखित मुख्य विशेषताएं हैं-

  1. यह पॉलिसी नए और यूज फोन दोनों को कवर करते हैं
  2. स्मार्टफोन के साथ साथ फोन के बेसिक फीचर्स को यह पॉलिसी कवर करती है
  3. इंश्योरेंस अमाउंट फोन की कीमत से जुड़ा होता है
  4. यह पॉलिसी 6 महीने से लेकर 12 महीने तक हो सकती है

मोबाइल फोन इंश्योरेंस कौन-कौन से कवर शामिल है- What is Covered Under Mobile Phone Insurance in Hindi

 मोबाइल फोन इंश्योरेंस पॉलिसी फोन के निम्न प्रकार के नुकसान को कवर करती है-

  1. चोरी के कारण फोन का नुकसान
  2. किसी भी प्रकार एक्सीडेंट के द्वारा नुकसान
  3. टेक्निकल प्रॉब्लम के कारण नुकसान
  4. स्क्रीन संबंधित नुकसान
  5. आग की वजह से नुकसान
  6. अन्य गड़बड़ी की स्थिति में फोन का रिप्लेसमेंट या रिपेयरिंग खर्च

इसके अलावा भी अतिरिक्त प्रीमियम देने का मोबाइल इंश्योरेंस के अंतर्गत एडवांस सर्विसेज भी अवेलेबल है

जिसमें

  • ट्रांसिट इंश्योरेंस जो ट्रांजिट में होने पर फोन के नुकसान को कवर करता है
  • जो विदेश यात्रा के समय दुनिया में कहीं भी मोबाइल के नुकसान को कवरेज

मोबाइल फोन इंश्योरेंस के अंतर्गत क्या कवर नहीं किया जाता है-What is Not Covered Under Mobile Phone Insurance?

हालांकि मोबाइल के लगभग सभी संभावित नुकसान को इंश्योरेंस पॉलिसी के द्वारा कवर किया जाता है लेकिन निम्नलिखित उदाहरणों को कवरेज से बाहर रखा गया है

  • मोबाइल फोन में किसी भी प्रकार का मिस्टीरियस  नुकसान
  • क्लाइमेट चेंज के कारण फोन को नुकसान
  • लापरवाही के कारण फोन की चोरी
  • किसी अन्य के द्वारा फोन को यूज करने पर होने वाला नुकसान
  • फोन में पहले से मौजूद डिफेक्टस
  • जानबूझकर फोन को नुकसान पहुंचाने की कोशिश

मोबाइल फोन इंश्योरेंस का क्या महत्व है-What is Importance of Mobile Phone Insurance ?

मोबाइल फोन महत्वपूर्ण एवं महंगे होने के कारण मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) का महत्व बहुत बढ़ जाता है, यह निम्न प्रकार है-

1. फोन खोने पर बदलने में आसान है :-

प्रीमियम स्मार्टफोन के चोरी  या खो जाने के कारण आपको काफी फाइनेंशिय लोस का सामना करना पड़ता है । इस स्थिति में मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी इस नुकसान को कवर करती है और आपको होने वाली फाइनैंशल नुकसान की भरपाई करती है।

2. रिपेयरिंग खर्च के लिए कवरेज :-

मोबाइल फोन में किसी भी कारण से खराब होने पर उसकी रिपेयरिंग में काफी खर्चा आता है , इस स्थिति में मोबाइल इंश्योरेंस फोन की मरम्मत की सारी लागत को कवर करते हैं। आपको मोबाइल ठीक कराने में किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं होती है।

3. मोबाइल इंश्योरेंस मोबाइल वारंटी से अधिक महत्वपूर्ण है :-

मोबाइल फोन कंपनी आपको वारंटी(Warranty) देती है और वारंटी को एक्सटेंड भी करती है लेकिन फोन खोने या चोरी होने की स्थिति में इस वारंटी का कोई उपयोग नहीं होता है, इस स्थिति में सिर्फ मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) पॉलिसी ही फायदेमंद साबित होती है।

आज के समय में मोबाइल पर निर्भरता काफी बढ़ गई है इसलिए मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी का महत्व काफी बढ़ गया है।

मोबाइल फोन इंश्योरेंस में क्लेम कैसे करते हैं-How do Claim Under Mobile Phone Insurance in Hindi

यदि आपने मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) लिया हुआ है और आपके फोन को किसी तरीके नुकसान हुआ है तो आप मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी के अंतर्गत क्लेम कर सकते हैं। 

क्लेम के लिए आपको निम्न चरणों का पालन करना चाहिए :-  

  1. आपके मोबाइल फोन के खोने या चोरी होने की स्थिति में तुरंत इंश्योरेंस कंपनी के हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके सूचित करें। इससे आपको एक क्लेम रेफरेंस नंबर दिया जाएगा जो आपको क्लेम के दौरान कदम कदम पर मदद करेगा।
  2. क्लेम फॉर्म में सारी इनफार्मेशन देकर क्लेम फॉर्म को सबमिट करें
  3. फोन चोरी होने या खो जाने की स्थिति में लोकल पुलिस स्टेशन में FIR कराएं। चोरी का क्लेम करने के लिए FIR रिपोर्ट की आवश्यकता होगी
  4. फोन में अन्य तरीके से नुकसान होने पर फोन के फोटो को कंपनी को सबमिट करने की आवश्यकता होगी
  5. इसके बाद इंश्योरेंस कंपनी फोन के नुकसान और नुकसान के कारण की जांच करेगी
  6. जांच के आधार पर आपके द्वारा किए गए क्लेम को अपडेट किया जाएगा
  7. यदि रिपेयरिंग की आवश्यकता है तो इंश्योरेंस कंपनी ऑथराइज मोबाइल सर्विस सेंटर को सारी लागत का सेटलमेंट करेगी। यदि आपके यहां पर कोई ऑथराइज्ड मोबाइल सर्विस सेंटर नहीं होने पर इंश्योरेंस कंपनी आपके द्वारा किए गए खर्चे का रेमबर्समेंट करेगी।
  8. चोरी के कारण होने वाले नुकसान के लिए इंश्योरेंस कंपनी आपको क्लेम के रूप में मोबाइल इंश्योरेंस पॉलिसी की इंश्योरेंस अमाउंट का भुगतान करेंगी।

मोबाइल फोन इंश्योरेंस के क्लेम के लिए कौन-कौन से डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है-Document Required for Mobile Phone Insurance Claim

आपको मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) क्लेम के लिए निम्न डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है-

  • पुरा भरा हुआ क्लेम फॉर्म
  • फोन चोरी या खो जाने की स्थिति में पुलिस FIR की कॉपी
  • फोन का बिल
  • इंश्योरेंस पॉलिसी बॉन्ड

भारत में मोबाइल फोन इंश्योरेंस करने वाली कंपनियां- Cell Phone Insurance Providers Companies in India

भारत में कुछ मुट्ठी भर इंश्योरेंस कंपनियां है मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) करती हैं, जो निम्न प्रकार है-

  1. गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस कंपनी – Go digit General insurance company
  2. वनएसिस्ट – OneAssist
  3. बजाज फिनसर्व-Bajaj Finserv
  4. होम क्रेडिट-Home Credit
  5. ऑनसाइट गो-OnSiteGo
  6. सिस्का-Syska
  7. Acko

मोबाइल फोन इंश्योरेंस कैसे खरीदें-How to Buy Mobile Phones insurance

मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) खरीदने के लिए सबसे पहले आपको इंश्योरेंस कंपनी को चुनना होगा उसके बाद इंश्योरेंस कंपनी की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई करना होगा और प्रीमियम(Premium) का भुगतान भी ऑनलाइन करना होगा और आपके इंश्योरेंस पॉलिसी जारी हो जाएगी ।

यह प्रोसेस काफी easy और fast है।

मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) खरीदने के लिए आपको निम्न डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होगी-

  1. एप्लीकेशन फॉर्म
  2. मोबाइल का बिल
  3. मोबाइल का IMEI नंबर
  4. आपका आईडेंटिटी प्रूफ

इसलिए मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) के द्वारा मोबाइल फोन को सुरक्षित रखें और फोन के डैमेज होने पर या खो जाने पर या चोरी हो जाने पर होने वाले फाइनैंशल नुकसान के खिलाफ खुद को कवर करें।

मोबाइल फोन इंश्योरेंस(Mobile Phone Insurance) का प्रीमियम बहुत कम है और आप बिना किसी परेशानी से इसे आसानी से खरीद सकते हैं।

Frequently Asked Questions :-

1. यदि  विदेश से फोन खरीदा है, तो क्या भारत में इंश्योरेंस लिया जा सकता हैं ?

हां, आप खरीद सकते हैं सिर्फ आपको मोबाइल फोन का ओनरशिप प्रूफ देना होगा

2. यदि फोन पूरी तरीके से डैमेज हो गया है तो क्या उसके रिपेयरिंग कॉस्ट के लिए क्लेम कर सकते हैं ?

इस परिस्थिति में इंश्योरेंस कंपनी आपको रिप्लेसमेंट या रिपेयरिंग कॉस्ट के क्लेम के लिए ऑफर दे सकती हैं।

3. क्या फोन खो जाने पर डाटा रिकवर कर सकता हूं ?

कुछ इंश्योरेंस कंपनियां अपने इंश्योरेंस पॉलिसी के तहत चोरी हुए फोन से डाटा रिकवरी की सुविधा देती है।

4. क्या सभी मोबाइल इंश्योरेंस कंपनियां मोबाइल चोरी इंश्योरेंस देती है?

नहीं, सारी मोबाइल इंश्योरेंस कंपनियां यह सुविधा नहीं देती है।

1 thought on “मोबाइल फोन इंश्योरेंस कैसे करें ?-Moblie Phone Insurance”

Leave a Comment